• Foodshaala

रेसिपी: पौष्टिक पालक ब्रेड पकोड़े

Updated: Jun 22

रेसिपी अंग्रेजी में पढ़ें| Read the recipe in English.


घर में सभी को ब्रेड पकोड़े बहुत पसंद होते हैं। अगली बार इसे अपने प्रियजनों के लिए स्वस्थ बनाने के बारे में क्या ख्याल है? ब्रेड पकोड़े के इस पौष्टिकऔर स्वादिष्ट संस्करण को आज़माएं, जो तेल में तले होने की जगह कम तेल में सिके हुए हैं। इसमें पालक, पनीर, करी पत्ते और तिल जैसी स्वस्थ सामग्रियां भी शामिल हैं।

सामग्री:

भरने के लिए:

  • 4 मध्यम आकार के उबले आलू

  • ½ कटोरी मटर

  • 5-6 करी पत्ते

  • चुटकी भर हींग

  • एक छोटी हरी मिर्च

  • ½ छोटा चम्मच जीरा

  • 1/4 छोटा चम्मच हल्दी पाउडर

  • ½ छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर

  • 1 छोटा चम्मच धनिया पाउडर

  • ½ छोटा चम्मच जीरा पाउडर

  • ½ छोटा चम्मच गरम मसाला

  • ½ छोटा चम्मच तिल के बीज

  • 1 चम्मच अमचूर पाउडर

  • 1 बड़ा चम्मच घी

  • मुट्ठी भर धनिया पत्ती

  • स्वादानुसार नमक

पकोड़े के घोल के लिए:

  • 1 कटोरी बेसन

  • 1 कटोरी या 100 ग्राम पालक

  • ½ छोटा चम्मच अजवाइन

  • ½ छोटा चम्मच जीरा

  • ¼ छोटा चम्मच लाल मिर्च पाउडर

  • स्वादानुसार नमक

अन्य सामग्रियां:

  • 10 पीस आटा ब्रेड

  • पनीर (लगभग 200 ग्राम)


मात्रा: 5 ब्रेड पकोड़े

पोषक मूल्य (प्रति सर्विंग):

  • ऊर्जा: 447 किलो कैलोरी

  • प्रोटीन: 21 ग्राम

  • कार्बोहाइड्रेट: 47 ग्राम

  • वसा (फ़ैट्स): 19 ग्राम

  • फाइबर: 7 ग्राम


तरीका:


भरवां मिश्रण बनाने की विधि:

  1. उबले हुए आलू को छीलकर मसल लें।

  2. मटर के नरम होने तक उबाल लें।

  3. एक कढ़ाई लें और उसमें 1 बड़ा चमच तेल गर्म करें।

  4. तेल के गर्म होने पर उसमें हींग, करी पत्ता, हरी मिर्च और जीरा डालें।

  5. जब जीरा चटकने लगे तो गैस धीमी कर दें और इसमें धनिया पाउडर, लाल मिर्च पाउडर, हल्दी पाउडर, जीरा पाउडर, तिल, गरम मसाला और अमचूर पाउडर डाल दें।

  6. मसाले के मिश्रण को हिलाएं ताकि यह जले नहीं।

  7. कढ़ाई में आलू और उबले मटर डालें।

  8. नमक डालकर सभी चीजों को अच्छी तरह मिला लें।

  9. मिश्रण के ऊपर हरा धनिया छिड़कें ।

  10. इस मिश्रण को ठंडा होने दे।

पकोड़े का घोल बनाने की विधि:

  1. बेसन को किसी बर्तन में निकाल लेंI

  2. पालक को गर्म उबलते पानी में 30-40 सेकंड के लिए डालें, और फिर जल्दी से इसे निकालकर ठंडे पानी में डाल दें। पालक को पानी से छान लें।

  3. पालक को ग्राइंडर में तब तक पीसें जब तक वह मुलायम पेस्ट न बन जाए।

  4. बेसन में पालक का पेस्ट डालेंI

  5. बेसन के मिश्रण में जीरा, अजवाइन, लाल मिर्च पाउडर और नमक डालेंI

  6. ½ कटोरी पानी डालकर अच्छी तरह मिला लें ताकि घोल मध्यम गाढ़ा हो जाए।

ब्रेड पकोड़े बनाने की विधि:

  1. ब्रेड के दो पीस लें।

  2. पनीर को पतला काट लें।

  3. एक ब्रेड के पीस पर पहले भरवां मिश्रण फैलाएं, और फिर उसके ऊपर पनीर का टुकड़ा रखें। इसे ढकने के लिए दूसरा ब्रेड पीस रखें।

  4. इस ब्रेड पकोड़े को दो बराबर भागों में काट लें ।

  5. एक फ्राई पैन या तवा लें और उस पर थोड़ा सा तेल डालें।

  6. पकोड़े को पालक-बेसन के घोल में लपेट कर गरम पैन/तवे पर रखें I

  7. पकोड़े को दोनों तरफ से हल्का सा भून लें। साथ ही किनारों को पलट दें ताकि किनारे भी अच्छे से सिक जाएं।

  8. पकोड़े बनकर तैयार हो जाने पर उसके ऊपर थोड़ा सा तिल छिड़क कर इमली और पुदीने की चटनी के साथ परोसियेI

अपने खाने को जानें


बेसन

बेसन विटामिन, खनिज (मिनरल्स) और फाइबर का एक समृद्ध स्रोत है। इसमें विभिन्न बी विटामिन होते हैं जो प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट और वसा को ऊर्जा (एनर्जी) में बदलने में मदद करते हैं। इसमें प्रोटीन और आयरन की मात्रा अधिक होती है: 100 ग्राम बेसन में लगभग 20 ग्राम प्रोटीन होता है और दैनिक आयरन की आवश्यकता का 25% प्रदान करता है। बेसन में मौजूद इन्सॉल्युबल फाइबर कब्ज़ की संभावना को कम करता है। बेसन फोलेट या फोलिक एसिड में उच्च होता है, जो लाल रक्त कोशिकाओं और सफेद रक्त कोशिकाओं के तेजी से विकास और गुणन में मदद करता है।

पालक

पालक अपने उच्च पोषक तत्वों के कारण एक सुपरफूड है। यह विटामिन ए, विटामिन सी, विटामिन के, फोलिक एसिड, आयरन और कैल्शियम का समृद्ध स्रोत है। पालक में कार्बोहायड्रेट कम लेकिन इन्सॉल्युबल फाइबर अधिक होता है। इस प्रकार का फाइबर पाचन में मदद करता है। पालक के कई फायदे हैं। यह ऑक्सीडेटिव तनाव को कम कर सकता है, आंखों के स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है, कैंसर से लड़ सकता है और रक्तचाप को नियंत्रित कर सकता है।

पनीर

पनीर प्रोटीन का एक उत्कृष्ट स्रोत है और इसमें अपेक्षाकृत कम कैलोरी होती है। 100 ग्राम पनीर में लगभग 18 ग्राम प्रोटीन होता है। यह कई पोषक तत्वों से भी भरा होता है, जैसे कि बी विटामिन, कैल्शियम, फास्फोरस और सेलेनियम।

तिल के बीज

तिल के बीज स्वस्थ वसा, प्रोटीन, बी विटामिन, खनिज, फाइबर और विभिन्न एंटीऑक्सीडेंट से भरपूर होते हैं। वे मैग्नीशियम में उच्च हैं जो रक्तचाप को कम करने में मदद करते हैं। टिल के बीज कैल्शियम का एक बहुत अच्छा स्रोत हैं, दो स्वस्थ हड्डियों और दांत के लिए लाभकारी है।

0 comments